Thursday, June 13, 2024
अन्य राज्यउत्तराखंड

देश में महिलाओं के लिये सबसे असुरक्षित राज्य है राजस्थान, अपराधियों के बन गया है पनाहगाह:- दीप्ती रावत भारद्वाज

राजस्थान/देहरादून: महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्षा वानति श्रीनिवासन के मार्गदर्शन में महिला मोर्चा विपक्षी सरकार वाले राज्यों में 48 घंटों का प्रवास कर रहा है। इसी के चलते इस महीने तेलंगाना के बाद राजस्थान में महिला मोर्चा का 48 घंटे का प्रवास हुआ। जिसमें भाजपा महिला मोर्चा के राष्ट्रीय पधाधिकारियों ने राजस्थान प्रदेश के संगठनात्मक 44 ज़िलों में प्रवास किया। प्रवास के दौरान विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से महिला मोर्चा पधाधिकारियों ने राजस्थान की 200 विधानसभाओं में से लगभग 160 विधानसभाओं में संपर्क किया।

महिला मोर्चा की राष्ट्रीय महामंत्री दीप्ती रावत ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार द्वारा अभूतपूर्व विकास कार्य हुए हैं और विशेषकर महिलाओ के उत्थान और सशक्तिकरण के लिये अनेकों ऐतिहासिक कार्य हुए हैं जिसकी वजह से देश में होने वाले किसी भी चुनाव में महिलाओं का वोट प्रतिशत भाजपा के पक्ष में लगातार बढ़ रहा है। महिला मोर्चा की राष्ट्रीय महामंत्री दीप्ती रावत ने राजस्थान प्रदेश की गहलोत सरकार पर स्थानीय नेताओं को लाभ पहुंचाने और केंद्र सरकार की योजनाओं का नाम बदलने का आरोप लगाया। केंद्र की मोदी सरकार प्रत्येक योजना के लिए 75 प्रतिशत अनुदान दे रही हैं, लेकिन प्रदेश की कांग्रेस सरकार की गलत नीतियों के कारण आमजन तक लाभ नहीं पहुंच रहा।

दीप्ती रावत ने वर्ष 2018 से दिसंबर 2022 तक अपराध के बढ़ते आंकड़ो का हवाला दिया, 2020 में दुष्कर्म के मामलो में 19 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। महिला उत्पीड़न के मामलों में 18 फीसदी की बढ़ोतरी हुई। जिसमें दुष्कर्म के 26 हजार से अधिक मामले दर्ज हुए। 23 हजार से ज्यादा अपहरण के मामले दर्ज हुए। वहीं प्रदेश सरकार आंकड़े छिपाने के प्रयास कर रही है। प्रदेश की लॉ एंड ऑर्डर व्यवस्था फेल हो चुकी है, लेकिन गहलोत सरकार चुप्पी साधे है। दीप्ती रावत ने कहा कि प्रदेश में महिलाओं की दशा बिगड़ती जा रही है, इसके लिए कांग्रेस की गहलोत सरकार जिम्मेदार है। प्रदेश में महिलाओं कि आधी आबादी है, जो पूरी तरह त्रस्त है। महिला की ऐसी परिस्थिती के लिए मुख्यमंत्री गहलोत को इस्तीफा देना चाहिए। श्रीमती रावत ने बालोतरा में थिनर डालकर जलाई गई विवाहिता की घटना को सरकार की गंभीर चूक बताया वहीं उदयपुर के मावली में आठ वर्षीय बालिका से हुए दुष्कर्म की घटना को घृणित अपराध बताते हुए प्रदेश को असुरक्षित प्रदेश बताया।

दीप्ती रावत ने गहलोत सरकार द्वारा लगाए जा रहे महंगाई राहत शिविरों को ढोंग प्रपंच बताया, उन्होने कहा कि एक मजदूर अपनी मजदूरी छोड़कर शिविर में जाता है और खाली हाथ लौट रहा है। ऐसे में आम मजदूर के हाथ से उनकी दिहाड़ी तक मारी जा रही है। महिला मोर्चा की राष्ट्रीय महामंत्री दीप्ती रावत ने 48 घंटे के राजस्थान प्रवास हेतु जयपुर पहुँचकर महिला मोर्चा पधाधिकारियों, राजनेताओं एवं मण्डल स्तर के कार्यकर्ताओं की बैठक की एवं महिला मोर्चा के आगामी कार्यक्रमों को लेकर चर्चा की।

30 अप्रैल को जयपुर शहर की सिविल लाइन विधानसभा के बूथ संख्या 115 मे रयान स्कूल में दीप्ती रावत ने महिला मोर्चा कि कार्यकर्ताओं, स्थानीय जंप्रतिनिधियों एवं विद्यार्थियों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लोकप्रिय कार्यक्रम “मन की बात” के 100वें एपिसोड को सुना। जयपुर की सांगानेर विधानसभा में समरसता अन्न कार्यक्रम के तहत महिला मोर्चा कार्यकर्ताओं के साथ दीप्ती रावत ने, मोटा अनाज श्री अन्न के रूप में राजस्थानी भोजन का आनंद लिया। इसके बाद जयपुर शहर के प्रबुद्ध जनों एवं नव मतदाताओं से संपर्क किया साथ ही विभिन्न राजनीतिक व सामाजिक विषयों पर चर्चा भी की।

जयपुर ज़िले की झोटवाड़ा विधानसभा के करणी विहार मंडल, वार्ड 64 में बूथ सुदृढ़ीकरण कार्यक्रम मे राष्ट्रीय महामंत्री दीप्ती रावत शामिल हुई। इस कार्यक्रम में बूथ को सुदृढ़ कैसे बनाएं, इस विषय पर चर्चा हुई। साथ ही कार्यक्रम के बाद पक्षियों के लिये परिंडे बांधने का कार्य किया गया। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष महिला मोर्चा अल्का मूँदडा, महिला मोर्चा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पूजा कपिल मिश्रा, जयपुर महिला मोर्चा ज़िला अध्यक्ष अनुराधा माहेश्वरी, प्रदेश मीडिया संपर्क प्रभारी आनंद शर्मा, प्रदेश मीडिया सह-संयोजक अशोक सिंह, प्रदेश महिला मोर्चा मीडिया प्रभारी श्रीमती स्नेहा काम्बोज शर्मा, मंडल अध्यक्ष करणी विहार अनुभव शर्मा, महिला मोर्चा मंडल अध्यक्ष दुर्गा कटारिया व अन्य उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *