Tuesday, June 18, 2024
उत्तराखंडदेहरादूनशिक्षा

कनिष्ठ सहायक भर्ती परीक्षा के प्रश्न पत्र को लेकर उत्तराखंड बेरोजगार संघ ने उठाए गंभीर सवाल

देहरादून: उत्तराखंड बेरोजगार संघ ने रविवार को हुई कनिष्ठ सहायक भर्ती परीक्षा के प्रश्न पत्र को लेकर गंभीर सवाल उठाए हैं। अध्यक्ष बॉबी पंवार ने दावा किया कि पेपर के चार सेट में न तो सवालों के क्रम बदले गए और न ही ऑप्शन के। पेपर खत्म होने के बाद एकता विहार स्थित धरना स्थल पर बॉबी पंवार ने पत्रकारों से वार्ता के दौरान पेपर के ए, बी, सी और डी सेट दिखाते हुए कहा कि इनमें सवालों का क्रम नहीं बदला गया है। चारों सेट में एक से लेकर 100 तक प्रश्न और उत्तर के ऑप्शन का क्रम एक जैसा है। ये गंभीर विषय है। उन्होंने आरोप लगाया कि कई सेंटरों पर ऐसे मामले सामने आए हैं, जहां पेपर पर सही से सील नहीं थी। देहरादून का मामला बताते हुए दावा कि पेपर पर एक सीलें टूटी हुई थी और एक्ट्रा सील लगी थी। उन्होंने एक प्रश्न पत्र दिखाते इसे साक्ष्य के तौर पर प्रस्तुत किया। उन्होंने कहा कि प्रश्न पत्र और ओएमआर शीट का क्रमांक एक जैसा होता है।

आरोप लगाया कि कई जगह ओएमआर और प्रश्न पत्र क्रमांक अलग-अलग थे। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड लोक सेवा आयोग के अधिकारियों को नैतिकता के आधार पर इस्तीफा देना चाहिए। सवाल उठाया कि अगर पेपर के चार सेट बनाने थे तो क्यों प्रश्न और उत्तर के ऑप्शन का एक जैसा क्रम रखा। बॉबी पंवार ने उत्तर कुंजी रटवाने की आशंका जताई। उन्होंने कहा कि अगर किसी ने पेपर की सील से छेड़छाड़ की हो या उत्तर कुंजी हासिल कर ली हो, वह अपने लोगों को प्रश्नों के उत्तर दे सकते हैं। उदाहरण के तौर पर प्रश्न एक का बी या दो का सी! इस तरह से लिखकर दे सकते हैं या रटा सकते हैं। चूंकि चारों सेटों में क्रम एक जैसा है, ऐसे में किसी के पास कोई भी सेट आ जाए, इससे फर्क नहीं पड़ता।

बॉबी ने कहा कि जांच करना सरकार का काम है, चीजें रखना हमारा काम। हमें राज्य की जांच एजेंसियों पर भरोसा नहीं है। शिकायतें दबाई जा रही हैं। चार सेट एक जैसे दे दिए, ऐसा तो पहले कभी नहीं हुआ। यह आसान तरीका है, जिससे कुछ लोगों को फायदा पहुंचाया जा सकता है। आयोग के अधिकारियों-कर्मचारियों की अच्छे से जांच होनी चाहिए। जांच सीबीआई को दी जाए, हम इस मांग पर कायम रहेंगे। कनिष्ठ सहायक के पेपर के सेटों में सवालों के क्रम नहीं बदले जाने को लेकर सोशल मीडिया पर भी सवाल उठे। राजेश बिजल्वाण नाम के यूजर ने लिखा कि उत्तराखंड लोक सेवा आयोग के आज हुए कनिष्ठ सहायक के पेपर में प्रश्न पत्र के सेट ए,बी,सी,डी के सारे प्रश्न जैसे क्रमांक में दिए गए। ऑप्शन भी एक ही क्रम में दिए गए। इसे क्या समझा जाए, जिसे अफवाह लग रही हो वह खुद चारों सेट चेक कर लें।

कनिष्ठ सहायक भर्ती परीक्षा में प्रश्नपत्रों के सभी सेट में प्रश्नों के एक ही क्रम में होने की शिकायत उत्तराखंड लोक सेवा आयोग को भी मिली है। इस पर आयोग ने साफ किया है कि प्रश्नों के एक ही क्रम में होने से परीक्षा की गोपनीयता पर कोई असर नहीं पड़ा है। यह परीक्षा पूरी तरह से पारदर्शिता के साथ हुई है। उत्तराखंड लोक सेवा आयोग के सचिव गिरधारी सिंह रावत ने कहा कि कनष्ठ सहायक पदों के लिए रविवार को हुई लिखित परीक्षा पूरी तरह शांतिपूर्ण तरीके से हुई है। प्रश्नपत्रों के सभी सेट में प्रश्नों के एक ही क्रम में होने की शिकायत जरूर आयोग तक भी पहुंची है, लेकिन इससे परीक्षा की गोपनीयता पर कोई फर्क नहीं पड़ा है।  सचिव रावत ने कहा कि प्रश्नपत्र के सभी सेट में प्रश्नों के एक ही क्रम में होने की शिकायत परीक्षा के दौरान नहीं की गई।

सभी परीक्षा कक्ष में परीक्षक तैनात थे और इस कारण एक-दूसरे से पूछने का सवाल ही पैदा नहीं होता। अभ्यर्थियों को भी इसकी जानकारी परीक्षा हॉल के बाहर आकर ही मिली होगी। इससे परीक्षा की वश्विसनीयता पर सवाल नहीं उठाए जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि विभन्नि माध्यमों से प्रश्नपत्र की सीरीज को आधार बनाकर भ्रामक और आधारहीन सूचनाएं प्रसारित की जा रही हैं, जो पूरी तरह से निराधार और असत्य हैं। आयोग के सचिव ने कहा कि परीक्षा के दौरान किसी भी केंद्र पर आयोग की परीक्षा में अनियमितता या नकल संबंधी शिकायत प्राप्त नहीं हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *