Sunday, June 23, 2024
उत्तराखंडहेल्थ

विचार एक नई सोच सामाजिक संगठन की “स्वस्थ गाँव-स्वस्थ उत्तराखंड” मुहिम फिर हुई शुरु, तिलवाड़ा में लगा निशुल्क स्वास्थ्य जाँच शिविर, बड़ी संख्या में स्वास्थ्य जांच को पहुँचे लोग

चमोली: उत्तराखंड में पिछले 10 वर्षों से स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में कार्यरत विचार एक नई सोच सामाजिक संगठन का चलो गाँव की ओर अभियान फिर शुरु हो गया है। स्वस्थ गाँव- स्वस्थ उत्तराखंड अभियान की शुरुआत राज्य के जाने माने फिजिशियन डॉक्टर एसडी जोशी और बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर गोविंद पुजारी ने चमोली जनपद के तिलवाड़ा में निशुल्क स्वास्थ्य कैंप लगाकर की। इस मौके पर विचार एक नई सोच सामाजिक संगठन के सचिव राकेश बिजलवाण अपनी पूरी टीम दीपक जुगरान, एस सती, कपिल थापा और सोनू सिंह के साथ मौजूद रहे। स्वास्थ्य शिविर में ईसीजी, ब्लड शुगर , और समस्त दवाओं का वितरण निःशुल्क किया गया। तिलवाड़ा में 275 मरीज़ों ने स्वास्थ्य शिविर का लाभ उठाया। जिसमे 70 बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण भी किया गया। 90 मरीजों की ईसीजी और 200 मरीजों की ब्लड शुगर की जाँच फ्री की गई । सभी मरीजों को दवाइयाँ निशुल्क बाँटी गई।

हैल्थ कैंप में उत्तराखंड के जाने माने फिजिशियन और कार्डियोलॉजिस्ट डॉ एसडी जोशी तथा बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर गोविन्द पुजारी ने मरीजों के स्वास्थ्य की जांच की। आज तिलवाड़ा में एक निजी होमस्टे पर फ्री मेडिकल हैल्थ कैम्प में 205 से अधिक मरीजो के स्वास्थ्य की जांच की गई। हृदय रोग से संबधित मरीजों का मौके पर फ्री इसीजी व शुगर के रोगियों की फ्री शुगर जांच की गई। सभी जांचे पूरे एतिहात के साथ डॉ जोशी द्वारा किया गया।

हैल्थ कैप में 3 दर्जन से अधिक हृदय रोगियों के निशुल्क ईसीजी और 100 से अधिक मरीजों का निशुल्क शुगर परीक्षण किया गया। डॉ जोशी ने स्वास्थ्य जांच को आये लोगों से कहा कि बीमारियों को छिपायें नहीं डॉक्टर को बतायें। बिना डॉक्टरी के सलाह के कोई भी दवा न खायें उनके साथ आए डॉक्टर गोविंद पुजारी बाल रोग विशेषज्ञ द्वारा बच्चों का चेक उप कर इलाज किया गया उन्होंने बताया पहाड़ी क्षेत्रों में अधिकतर बच्चों में एनीमिया की बीमारी दिखाई दी।

डॉ एसडी जोशी ने बताया कि शिविर में आने वाले मरीजों की व्यक्गित हिस्ट्री के साथ उनके परिवार की भी हिस्ट्री ली गई। मरीजों के स्वास्थ्य से संबधित बीमारियों को लेकर जागरूक किया गया। साथ ही उन्हें किस तरह का खान-पान जीवन में अपनाना चाहिए इस बात की भी जानकारी दी गई। डॉ एसडी जोशी ने कहा कि वह समय-समय पर पहाड़ों में जनता के लिये निशुल्क सेवाएं देते रहते हैं।

डॉक्टर शंकर दत्त जोशी ने कहा कि पहाड़ों में स्वास्थ्य सेवाओं के सुधार के लिये सरकार के साथ-साथ हम सभी डॉक्टरों को अपने स्तर से प्रयास करने होंगे। इसकी शुरूआत मैने स्यंम से की है। डॉक्टर जोशी चमोली जनपद विकासखंड थराली के मेलठा देवलकोट गाँव है और यहां उनका गृह क्षेत्र होने के कारण लगातार इस क्षेत्र में स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ जनता को देते आ रहे हैं और लोगों में लोकप्रिय बने हुए हैं और साथ ही क्षेत्र के कई लोगों ने इनसे अपना इलाज कर आज स्वस्थ है।

उन्होंने कहा जहां स्वास्थ्य सेवाओं की हालत किसी से छिपी नहीं है इसलिये मैं प्रत्येक 2 माह में एक स्वास्थ्य कैंप अपने गांव में लगाता हूं। जिससे मेरे गांव के साथ ही आस पास के गांव के लोगों को स्वास्थ्य संबधी जागरूकता के साथ ही तमाम बीमारियों का ईलाज हो सके साथ ही इस कैंप में सभी को दवाईयां निशुल्क दी जाती हैं। डॉ जोशी द्वारा चमोली जिले के अधिकांश गांवों मे फ्री कैंप आयोजित किये जा रहे हैं। उनका कहना है मेरी कोशिश प्रत्येक जनपद में दुर्गम गांवों में और जहां जरूरत हो वहां निशुल्क हैल्थ कैंप लगाना है।

इस अवसर पर उनके साथ दीपक जुयाल, एस सती, कपित थापा, राकेश विजलवाण, सोनी सिंह, पुष्कर सिंह रावत, इंद्र सिंह फर्शवाण, रणजीत सिंह गुसाईं मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *