Tuesday, June 18, 2024
राष्ट्रीय

गूगल ने अपने एप स्टोर से ऑनलाइन पर्सनल लोन देने वाले कई एप को किया बैन

नई दिल्ली: टेक दिग्गज गूगल (Google) ने अपने एप स्टोर से ऑनलाइन पर्सनल लोन देने वाले कई सारे एप को बैन कर दिया है। इन एप्स को अब इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा। गूगल ने 31 मई से इन पर बैन लगा दिया है। गूगल ने इन एप को गूगल प्ले स्टोर से ग्राहकों को झूठा दावा करने और गलत तरीके से लोन की रिकवरी करने के आरोप में बैन किया है। बता दें कि गूगल ने हाल ही में पर्सनल लोन के एप्स के नियमों में भी संशोधन किया है। गूगल ने 2 हजार से भी ज्यादा मोबाइल एप को अपने प्ले स्टोर से हटाया है। यह एप पर्सनल लोन ऑफर कर रहे थे और फिर रिकवरी के लिए लोगों को ब्लैकमेल तक करते थे।

दरअसल, भारत सरकार पर्सनल लोन देने वाले एप पर सख्ती बरत रही है और अब इस तरह के एप को लोन देने की इजाजत नहीं है। इस मामले में भारतीय रिजर्व बैंक यानी RBI ने गूगल से जवाब भी मांगा था। जिसके जवाब में गूगल ने 2000 से अधिक पर्सनल लोन देने वाले एप को बैन किया है। गूगल ने पर्सनल लोन देने वाले एप पर प्रतिबंध लगाया है, जो लोन के नाम पर संवेदनशील डाटा, जैसे फोटो और कॉन्टैक्ट तक पहुंच प्राप्त करते हैं। वहीं गूगल के नियम के अनुसार, उन एप को बैन किया गया है, जो सीधे यूजर्स को पर्सनल लोन ऑफर करते हैं। साथ ही जो एप लीड जेनरेटर हैं और ग्राहकों को थर्ड पार्टी लोनिंग से जोड़ते हैं, को बैन किया गया है। कुछ समय से पर्सनल लोन एप को लेकर लोगों की शिकायतें सामने आ रही थी। जिन पर लोन की गलत तरीके से रिकवरी करने और कई मामलों में ब्लैकमेल करने तक के मामले सामने आ रहे थे।

कई लोगों ने इस एप की ब्लैकमेलिंग से परेशान होकर सुसाइड तक कर लिया था। दरअसल, ये एप आसान प्रोसेस और कम समय में लोन देने का लालच देते हैं, फिर अधिक ब्याज के साथ पैसे वसूलते हैं। कई बार लोगों को दो से तीन गुना तक लोन चुकाना पड़ता है। और लोन वापस नहीं लेने पर कई बार फोटो, वीडियो वायरल करने और रिश्तेदारों में बदनाम करने तक की धमकी दी जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *