Thursday, June 13, 2024
राष्ट्रीय

प्रधानमंत्री संग्राहलय में राष्ट्रीय अटल सम्मान समारोह का आयोजन, 18 विभूतियों को किया गया सम्मानित

नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी के पहले प्रधानमंत्री कार्यकाल की स्मृति पर प्रधानमंत्री संग्राहलय, तीन मूर्ति भवन नई दिल्ली में राष्ट्रीय अटल सम्मान समारोह और संगीतमय अटल गाथा का आयोजन किया गया। यह आयोजन अटल फाउंडेशन द्वारा आयोजित किया गया। अटल गाथा के पश्चात अटल सम्मान समारोह के दौरान देश भर से चयनित सभी 18 विभूतियों को मुख्यातिथि पूर्व केंद्रीय मंत्री एव सांसद महेश शर्मा द्वारा सम्मानित किया गया। मुख्य अतिथि भारत सरकार महेश शर्मा, हिमाचल प्रभारी एवं पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष भाजपा अविनाश राय खन्ना, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भाजपा श्याम जाजू, चेयरमैन सुदर्शन न्यूज एवं टीवी सुरेश चव्हाणके, विधायक सफीपुर उन्नाव उत्तर प्रदेश बंबा लाल दिवाकर मौजूद रहे। मुख्यातिथि पूर्व केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा जी ने कहा कि अटल जी का सबसे बड़े भारतीय राजनेता के रूप में और भारतीय समाज में अलग ही योगदान था। और अटल फाउंडेशन उनके सपने को पूरा करने में अच्छा कार्य कर रहा है। महेश शर्मा ने कहा कि वाजपेयी जी ने अपने सार्वजनिक जीवन में राज धर्म को ही अपना एकमात्र सिद्धांत माना था। उनके सम्मान में राष्ट्रीय अटल पुरस्कार का आयोजन करना अटल फाउंडेशन का सराहनीय कदम है। आचार्य राजेश और महिला आयोग उत्तर प्रदेश सदस्य नीलिमा दीक्षित ने इस समारोह में आने वाले सभी अतिथिगणों का धन्यवाद किया।

नीलिमा दीक्षित ने कहा कि विभिन्न प्रदेशों से आए हुए अटल फाउंडेशन के प्रदेश सभापति एवं पदाधिकारी गणों का इस कार्यक्रम में आने के लिए उनकी भागीदारी का मैं हृदय की गहराइयों से स्वागत करती हो।’ अटल फाउंडेशन की राष्ट्रीय अध्यक्ष अपर्णा सिंह ने कहा कि उनके सम्मान में ही हर साल राष्ट्रीय अटल सम्मान के तहत समाज में बेहतरीन कार्य करने वाले लोगों को अवार्ड दिया जाता है। इस अवार्ड को इस बार 18 कैटेगरी में दिया गया है। उन्होंने कहा कि इस बार इस सम्मान समारोह का आयोजन 16 मई को इसलिए किया गया क्योंकि अटल जी ने इस दिन पहली बार प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली थी। उन्होंने कहा कि इस बार अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार का भी आयोजन वाजपेयी जी के जन्म दिवस पर किया जाएगा। जिसमें 9 कैटेगरी रखी गई हैं। कार्यक्रम के दौरान अपर्णा सिंह ने अटल कन्यादान और अटल किसान योजना की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि अटल कन्यादान योजना के तहत 21 हजार रुपए की राशि दी जाएगी या फिर उतने का ही कोई सामान नवविवाहित जोड़े को दिया जाएगा। इसके लिए उन्हें शादी का कार्ड संस्था को मुहैया कराना होगा। जबकि किसान योजना पर उन्होंने कहा कि इसके तहत देश में जगह जगह गोष्ठियां आयोजित की जाएंगी और उन्नत योजनाओं से किसानों को अवगत कराया जाएगा। इन योजनाओं के जरिए अटल जी के सपने को साकार करने का ही उद्देश्य तय किया गया है।

अटल फाउंडेशन की राष्ट्रीय अध्यक्ष अपर्णा सिंह ने कहा कि अटल जी हमेशा मानवीय मूल्यों के पक्षधर रहे थे। 2018 से अटल फाउंडेशन विधिवत समाज सेवा का कार्य कर रहा है। आज अटल फाउंडेशन के द्वारा 15 राज्यों में अटल सेवा केंद्र खोले गए हैं। अविनाश राय खन्ना जी ने अटल फाउंडेशन से जुड़ने के लिए सभी से अपील की है एक राष्ट्र श्रेष्ठ राष्ट्र। इनको दिया गया अटल सम्मान कार्यक्रम की अध्यक्षता श्याम जाजू जी ने की तथा समापन अविनाश राय खन्ना जी ने किया जेम माइंस की विशेष रत्नों की माला, चांदी का विशेष प्रतीक चिह्न, 11 हजार रुपए की सम्मान राशि, अंग वस्त्र, अटल समारोह का विशेष बैग, अटल समारोह का विशेष मास्क, स्मृतियां अटल हैं पुस्तक तथा एक सम्मान पत्र सहित कुल 10 वस्तुएं भेंट कर 18 कैटेगरी- शिक्षा, स्वास्थ्य, खेल, विज्ञान, सामाजिक कार्य, राजनीतिक, कला, स्वच्छ भारत, शांति, साहित्य, पर्यावरण, खेती, महिला सशक्तिकरण, सद्भावना, वीरता, प्रकृति बचाओ, मेक इन इंडिया, लाइफ टाइम अचीवमेंट्स में लोगों को सम्मानित किया गया। इस वर्ष विभिन्न क्षेत्रों में दिए गये अटल सम्मान निम्न प्रकार हैं:- साहित्य में संस्कृत भाषा में उल्लेखनीय योगदान के लिए डॉ. रागिनी भूषण, काव्य और संकलन हिंदी भाषा में योगदान को पुिष्पता अवस्थी, सबसे कम उम्र की मार्शल आर्ट ब्लैक बेल्ट जुनेरा अली को, देश विदेश में नाट्य कला प्रस्तुति के लिए डॉ. अनु सिन्हा को, राष्ट्रीय कार्यकारणी सदस्य महिला मोर्चा भाजपा अंजू वारियर को महिला सशक्तिकरण के लिए

शैल्य चिकित्सा के जाने माने नाम डॉ. सुनील सहदेव को स्वास्थ्य के लिए, नरेश चंद गुप्ता जोकि पश्चिमी यूपी में बड़े नाम है लोकतंत्र सेनानी , योगेंद्र यादव परमवीर चक्र विजेता को वीरता के लिए, अवनीश सिंह विशेन इंक्राप्ट इंडिया प्राइवेट लिमिटेड सीईओ अवनीश को मेक इन इंडिया के लिए, एक पर्यावरण प्रेमी प्लास राणा को पर्यावरण के लिए, प्रेमाशिस भट्टाचार्य को पश्चिम बंगाल कोलकाता में समाज सेवा के लिए, संदीप राणा को स्वच्छ भारत के लिए, जस्टिस आरबी शर्मा को राष्ट्र चेतना के लिए, सुनील रावत को वरिष्ठ राष्ट्रीय स्वयंसेवक के लिए, आचार्य राजेश ओझा को ज्योतिष में एक जाने माने नाम के लिए सम्मानित किया गया। जबकि विधायक ग्रामीण उदयपुर फूल सिंह मीणा को एक जनप्रिय नेता के रूप में अटल सम्मान से सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *