Tuesday, June 18, 2024
उत्तराखंड

छावनी में तब्दील हुआ पुरोला, विरोध में यमुनाघाटी के बाजार बंद

  • एडीम की आमजन से शांति ब्यवस्था बनाये रखने की अपील
  • हिंदुवादी संगठनों को पुलिस ने नौगांव में रोका, सड़क पर दिया धरना
  • धारा 144 के विरोध में यमुना घाटी के बाजार पूर्णतः स्वतःस्फूर्त बंद

उत्तरकाशी : पुरोला नगर वीरवार को पुलिस छावनी में तब्दील हो रखा है। पुरे नगर क्षेत्र में पुलिस के सैकड़ों जवान चप्पे चप्पे पर तैनात किये गए हैं । प्रशासन महापंचायत को होने से रोकने के लिए पूरी तरह से मुस्तैद है। बाहर से महापंचायत में जा रहे लोगों को जहाँ तहाँ रोका जा रहा है। प्रशासन द्वारा पुरोला में महापंचायत को रोकने के लिए लगाई गई धारा 144 से यमुनाघाटी व्यापार मंडल नाराज़ हैं। वीरवार को बड़कोट, नौगांव, पुरोला, मोरी ,डामटा के प्रमुख बाजार पूर्णतः स्वतःस्फूर्त बंद हैं। हिन्दू संघठनों की महापंचायत पर रोक लगाने का विरोध किया।

वीरवार को स्वामी केशव गिरी महाराज के नेतृत्व में व्यापार मंडल अध्यक्ष बड़कोट राजाराम जगूड़ी, तरवीन राणा, आदि पुरोला जा रहे दर्जनों समर्थक हिंदूवादी संगठनों को पुलिस ने नौगांव के आगे ही रोक दिया है। गुसाईं संगठनों ने सड़क पर नारे लगाते हुए धरने पर बैठ गए। स्पीच हिंदूवादी संगठन ने नारा लगाते हुए नारे लगाया है कि पहाड़ों में लव जेहाद नहीं चल ने देंगे ।

इस दौरान जय श्री राम के नारे भी लगे। फिलहाल नौगांव सड़क पर ही लोग लाउडस्पीकर के माध्यम से भाषण बाजी भी कर रहे हैं, लेकिन पुलिस और प्रशासन भी अपना काम कर रहा है। दूसरी ओर बजरंग दल के संगठन मंत्री विकास वर्मा पुरोला खेल मैदान पंहुचे हैं। उन्होंने कहा कि पहाड़ में गलत काम करने वाले लोगों को बर्दाश्त नहीं करेंगे।

पुरोला प्रकरण को देख रहे एडीएम तीर्थपाल सिंह ने जनता से अपील करते हुए कहा कि पुरोला घटना को लेकर मीडिया एवं सोशल मीडिया में कतई भी भ्रामक सूचना न प्रसारित की जाय। उन्होंने कहा कि भ्रामक सूचना से कानून व्यवस्था बिगाड़ने वालो को कतई भी बख्शा नही जाएगा। तथा उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल में लायी जाएगी । उन्होंने पुरोला में शांति व्यवस्था बनाने में जनसहयोग से अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *